banner
May 21, 2021
50 Views
0 0

Maa Shayari – Maa Teri Dua Le Jaayenge

Written by
banner

Hadason Ki Gard Se… Khud Ko Bachane Ke Liye,
Maa Ham Apne Saath Bas Teri Dua Le Jaayenge.

हादसों की गर्द से… ख़ुद को बचाने के लिए,
माँ हम अपने साथ बस तेरी दुआ ले जायेंगे।

Kisi Ko Ghar Mila Hisse Mein Ya Koi Dukaan Aayi,
Main Ghar Mein Sabse Chhota Tha Mere Hisse Mein Maa Aayi.

किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकाँ आयी,
मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आयी।

Ai Andhere! Dekh Le Munh Tera Kaala Ho Gaya,
Maa Ne Aankhen Khol Di Ghar Mein Ujaala Ho Gaya.

ऐ अँधेरे! देख ले मुँह तेरा काला हो गया,
माँ ने आँखें खोल दीं घर में उजाला हो गया।

Is Tarah Mere Gunahon Ko Wo Dho Deti Hai,
Maa Bahut Gusse Mein Hoti Hai To Ro Deti Hai.

इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है,
माँ बहुत ग़ुस्से में होती है तो रो देती है।

Meri Khwahish Hai Ki Main Phir Se Farishta Ho Jaoon,
Maa Se Is Tarah Lipat Jaoon Ki Bachcha Ho Jaoon.

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ,
माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ।

Khud Ko Is Bheed Mein Tanha Nahin Hone Denge,
Maa ! Tujhe Ham Abhi Budha Nahin Hone Denge.

ख़ुद को इस भीड़ में तन्हा नहीं होने देंगे,
माँ ! तुझे हम अभी बूढ़ा नहीं होने देंगे।

Article Categories:
Maa Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.