banner
May 16, 2021
18 Views
0 0

Hindi Shayari – Meri Har Dua Har Azaan Mein Tu Hai

Written by
banner

Meri Har Dua Har Azaan Mein Tu Hai,
Kahte Hai Ghar Khuda Ka Jise Us Makan Mein Tu Hai,
Kaise Pahunchegi Meri Paravaaz Tujh Tak ,
Main Hoon Jameen Par Aur Aasmaan Par Tu Hai…

Meri Ibaadat Meri Mohabbat Par Inayat Kar,
Mere Dil Aur Dhadkan Ke Darmyaan Mein Sirf Tu Hai,
Meri #Khatayen Nakabile Maafi Hain Shayad,
Tabhi To Beparvaah Hai Is Kadar Ki Mere Dard Se Anjaan Tu Hai.

मेरी हर दुआ हर अजान में तू है,
कहते है घर खुदा का जिसे उस मकान में तू है,
कैसे पहुंचेगी मेरी परवाज़ तुझ तक,
मैं हूँ जमीन पर और आसमान पर तू है…

मेरी इबादत मेरी मोहब्बत पर इनायत कर,
मेरे दिल और धड़कन के दरम्यान में सिर्फ तू है,
मेरी #ख़ताएँ नाकाबिले माफ़ी हैं शायद,
तभी तो बेपरवाह है इस कदर कि मेरे दर्द से अनजान तू है।

Article Categories:
Hindi Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.