banner
May 16, 2021
18 Views
0 0

Hindi Shayari – Afsos Unhen Aitabaar Nahin

Written by
banner

Apni Zindagi Mein Unhe Shamil Na Kar Sake,
Chah Kar Bhi Unhe Hasil Na Kar Sake,
Unhe Bewafa Se Mohabbat Thi,
Afsoos Khud Ko Unke Kabil Na Kar Sake.

अपनी ज़िन्दगी में उन्हें शामिल न कर सके,
चाह कर भी उन्हें हासिल न कर सके,
उन्हें बेवफा से मोहब्बत थी,
अफ़सोस खुद को उनके काबिल न कर सके।

Pyar Mein Hajaron Zakhm Khaye Hamne,
Afsos Unhen Ham Par Aitabaar Nahin,
Mat Poochho Kya BeetTi Hai Dil Par,
Jab Vo Kahte Hai Hamen Tumse Pyar Nahin.

प्यार में हजारों ज़ख्म खाए हमने,
अफ़सोस उन्हें हम पर ऐतबार नहीं,
मत पूछो क्या बीतती है दिल पर,
जब वो कहते है हमें तुमसे प्यार नहीं।

Mujhe Afsos Nahin Ke Mere Paas
Sab Kuchh Hona Chaahiye Tha,
Mai Us Waqt Bhi #Muskuraata Tha
Jab Mujhe Rona Chaahiye Tha.

मुझे अफ़सोस नहीं के मेरे पास
सब कुछ होना चाहिए था,
मै उस वक़्त भी #मुस्कुराता था
जब मुझे रोना चाहिए था।

Koi Juda Ho Gaya Koi Khafa Ho Gaya,
Yah Duniya Ke Logon Ko Kya Ho Gaya,
Jis Sajde Mein Mujhe Usko Mangna Tha Khuda Se,
Afsos Vahi Sajda Qaza Ho Gaya.

कोई जुदा हो गया कोई ख़फ़ा हो गया,
यह दुनिया के लोगों को क्या हो गया,
जिस सजदे में मुझे उसको माँगना था खुदा से,
अफ़सोस वही सजदा क़ज़ा हो गया।

Tanhai Ka Usne Manjar Nahin Dekha,
Afsos Ki Mere Dil Ke Andar Nahin Dekha,
Dil Tootne Ka Dard Vo Kya Jaane,
Jisne Ye Lamha Kabhi Jee Kar Nahin Dekha.

तन्हाई का उसने मंजर नहीं देखा,
अफ़सोस कि मेरे दिल के अन्दर नहीं देखा,
दिल टूटने का दर्द वो क्या जाने,
जिसने ये लम्हा कभी जी कर नहीं देखा।

Article Categories:
Hindi Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.