banner
May 13, 2021
21 Views
0 0

Friendship Dosti Shayari – Dosti Khoobsurat Ahsaas

Written by
banner

Dosti Dard Nahi Khushiyon Ki Saugat Hai,
Kisi Apne Ka Zindgi Bhar Ka Saath Hai,
Ye Toh Dilon Ka Woh KhoobSurat Ehsaas Hai,
Jiske Dam Se Roshan Yeh Saari Kaaynat Hai.
दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है,
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है,
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है,
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है।

Apni Zindgi Ke Kuchh Alag Hi Usool Hain,
Dosti Ki Khatir Hamein Kante Bhi Kabool Hain,
Hans Kar Chal Denge Kaanch Ke Tukdo Par Bhi,
Agar Dost Kahe Yeh Dosti Mein Bichhaye Phool Hain.
अपनी ज़िंदगी के कुछ अलग ही उसूल हैं,
दोस्ती की खातिर हमें काँटे भी क़बूल हैं,
हँस कर चल देंगे काँच के टुकड़ों पर भी,
अगर दोस्त कहे यह दोस्ती में बिछाये फूल हैं।

Rishton Se Badi Chahat Aur Kya Hogi,
Dosti Se Badi Ibadat Aur Kya Hogi,
Jise Dost Mil Sake Koyi Aap Jaisa,
Use Zindgi Se Koyi Aur Shikayat Kya Hogi.
रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा,
उसे ज़िंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी।

Article Categories:
Friendship Dosti Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.