banner
May 12, 2021
17 Views
0 0

Dil Shayari – Yeh Dil Uska Hai

Written by
banner

Uske Siwa Kisi Aur Ko Chahna Mere Bas Mein Nahi Hai,
Yeh Dil Uska Hai Apna Hota Toh Aur Baat Hoti.
उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं है,
ये दिल उसका है अपना होता तो और बात होती।

Jism Uska Bhi Mitti Ka Hai Meri Tarah Aye Khuda,
Phir Bhi Mera Dil Hi Kyun Tadapta Hai Uske Liye.
जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह ऐ खुदा,
फिर भी मेरा दिल ही क्यूँ तड़पता है उसके लिए।

Nigahein Bolti Hain Jab Jubaan Khamosh Rehti Hai,
Dilon Ki Dhadkane Hi Tab Dilo Ki Baat Kehti Hai.
निगाहें बोलती हैं जब जुबान खामोश रहती है,
दिलों की धड़कनें ही तब दिलों की बात कहती हैं।

Phir Uski Yaad, Phir Uski Aas, Phir Uski Baatein,
Ai Dil Lagta Hai Tujhe Tadapne Ka Bahut Shauk Hai.
फिर उसकी याद फिर उसकी आस फिर उसकी बातें,
ऐ दिल… लगता है तुझे तड़पने का बहुत शौक है।

Dil Woh Hai Ke Fariyaad Se Labrez Hai Har Waqt,
Hum Woh Hain Ke Kuchh Munh Se Nikalne Nahi Dete.
दिल वो है कि फ़रियाद से लबरेज है हर वक़्त,
हम वो हैं कि कुछ मुँह से निकलने नहीं देते।

Article Categories:
Dil Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.