banner
May 12, 2021
23 Views
0 0

Dil Shayari – Koyi Dil Se Ho Mera

Written by
banner

मुझे रिश्तों की लम्बी कतारों से क्या मतलब?
कोई दिल से हो मेरा तो एक शख्स ही काफी है।
Mujhe Rishton Ki Lambi Kataaro Se Kya Matlab?
Koyi Dil Se Ho Mera To Ek Shakhs Hi Kaafi Hai.

मुझे जिस दम खयाले-नर्गिसे-मस्ताना आता है,
बड़ी मुश्किल से काबू में दिले-दीवाना आता है।
Jis Dum Khayal-e-Nargis-e-Mastana Aata Hai,
Badi Mushkil Se Kaboo Mein Dil-e-Diwana Aata Hai.

निगाहें बोलती हैं जब जुबान खामोश रहती है,
दिलों की धड़कनें ही तब दिलों की बात कहती हैं।
Nigahein Bolti Hain Jab Jubaan Khamosh Rehti Hai,
Dilon Ki Dhadkane Hi Tab Dilo Ki Baat Kehti Hai.

दिल वो है कि फ़रियाद से लबरेज है हर वक़्त,
हम वो हैं कि कुछ मुँह से निकलने नहीं देते।
Dil Wo Hai Ke Fariyaad Se Labrez Hai Har Waqt,
Hum Wo Hain Ke Kuchh Moonh Se Nikalne Nahi Dete.

क्यों मेरे चैन ओ सुकून के दुश्मन बन गए,
दुनिया बड़ी हसीं है किसी और से दिल लगा लेते।
Kyun Mere Chain-o-Sukoon Ke Dushman Ban Gaye,
Duniya Badi Haseen Hai Kisi Aur Se Dil Laga Lete.

ये भी एक तमाशा है इश्क-ओ-मोहब्बत में,
दिल किसी का होता है जोर किसी का चलता है।
Ye Bhi Ek Tamasha Hai Ishq-o-Mohabbat Mein,
Dil Kisi Ka Hota Hai Jor Kisi Ka Chalta Hai.

इन दिनों दिल अपना सख्त बे-आराम रहता है,
इसी हालत में लेकर सुबह से शाम रहता है।
Inn Dino Dil Apna Sakht Be-Aaram Rehta Hai,
Isee Haalat Mein Lekar Subah Se Shaam Rehta Hai.

Article Categories:
Dil Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.