banner
May 12, 2021
18 Views
0 0

Dil Shayari – Kaanch Ka Dil

Written by
banner

Kaash Khuda Ne Yeh Dil Kaanch Ka Banaya Hota,
Todne Wale Ke Haath Mein Zakhm Toh Aaya Hota
काश खुदा ने ये दिल काँच का बनाया होता,
तोड़ने वाले के हाथ में ज़ख्म तो आया होता।

Iss Chhote Se Dil Mein Kis-Kis Ko Jagah Doon,
Gham Rahe, Dum Rahe, Fariyad Rahe Ya Teri Yaad.
इस छोटे से दिल में किस किस को जगह दूँ मैं,
गम रहे, दम रहे, फरियाद रहे या तेरी याद।

Dil Se Khayal-e-Yaar Ko Taale Hue Toh Hain,
Hum Jaan De Ke Dil Ko Sambhale Hue Toh Hain.
दिल से खयाल-ए-यार को टाले हुए तो हैं,
हम जान दे के दिल को संभाले हुए तो हैं।

Manta Hi Nahi Kambakht Dil Use Chahne Se,
Main Haath Jodta Hoon Toh Paanv Pad Jata Hai.
मानता ही नहीं कमबख्त दिल उसे चाहने से,
मैं हाथ जोड़ता हूँ तो ये पाँव पड़ जाता है।

Na Puchh Dil Ki Hakiqat Magar Yeh Kehta Hai,
Woh Bhi Bekaraar Rahe Jisne Bekarar Kiya.
ना पूछ दिल की हकीक़त मगर ये कहता है,
वो भी बेक़रार रहे जिसने बेक़रार किया।

Dil Ke Rishton Ki Nazakat Ko Woh Kya Jaane,
Naram Lafzon Se Bhi Lag Jati Hai Chotein Aksar.
दिल के रिश्तों की नज़ाकत को वो क्या जाने,
नरम लफ़्ज़ों से भी लग जाती हैं चोटें अक्सर।

Article Categories:
Dil Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.