banner
May 6, 2021
23 Views
0 0

Dard Shayari – Ek Naya Dard

Written by
banner

Kya Baat Sikhai Hai Tajurve Ne Hame…
Ek Naya Dard Hi Purane Dard Ki Dawayi Hai.

एक बात सिखाई है… ताजुर्वे ने हमें,
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवा है।

Bahut Dard Hai Ai Jaan-e-Adaa Tere Ishq Mein,
Kaise Kah Doon Ki Tujhe Wafa Nibhani Nahi Aati.

बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरे इश्क में,
कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती।

Tanhai Me Gujar Jayen Ham Par Hazaron Sadme
Aankh Mein Aansu Bhi Aayein Yeh Jaroori To Nahi.

तन्हाई में गुजर जाएँ हम पर हजरों सदमे,
आँख में आँसू भी आयें ये ज़रूरी तो नहीं।

Bura Ye Nahin Laga Ke Tumhein Aziz Koi Aur Hai,
Dard Tab Hua Jab Najar Andaz Kiye Gaye.

बुरा ये नहीं लगा कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,
दर्द तब हुआ जब हम नजर अंदाज़ किए गए।

Mere Andar Jhank Kar dekho Tukado Me Milunga,
Ye Hasta Hua Chehra To Dikhane Ke Liye Hai.

मेरे अन्दर झाँक कर देखो टुकड़ों में मिलूंगा,
ये हँसता हुआ चेहरा तो दिखाने के लिए है।

Maine Nahi Chaha Hai Tumse Apni Wafaon Ka Sila,
Bas Dard Dete Raha Karo Mujhe Mohabbat Badti Jayegi.

मैंने नहीं चाहा है तुमसे अपनी वफ़ाओं का सिला,
बस दर्द देते रहा करो मुझे मोहब्बत बढ़ती जाएगी।

Article Categories:
Dard Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.