banner
May 6, 2021
23 Views
0 0

Dard Shayari – Dard Ka Afsana

Written by
banner

Labo Par Jab Kisi Ke Dard Ka Afsana Aata Hai,
Hamen Rah-Rah Kar Apna Dil-E-Deewana Aata Hai.

लबो पर जब किसी के दर्द का अफ़साना आता है,
हमें रह-रह कर अपना दिल-ए-दीवाना आता है।

Waqt Har Zakhm Ka Marham Ton Ban Nahi Sakta,
Dard Kuchh Aise Hote Hain Ta-Umr Rulane Wale.

वक़्त हर ज़ख़्म का मरहम तो नहीं बन सकता,
दर्द कुछ ऐसे होते हैं, ता-उम्र रुलाने वाले।

Mohabbat Khubsurat Hogi… Kisi Aur Duniya Mein,
Idhar Toh Hum Par Jo Gujri Hai Hum Hi Jante Hain.

मोहब्बत ख़ूबसूरत होगी किसी और दुनिया में,
इधर तो हम पर जो बीती है हम ही जानते हैं।

Zindgi Ko Mile Koyi Hunar Aisa Bhi Ai Khuda,
Sab Mein Maujood Bhi Rahe Aur Fanaah Ho Jaye.

जिंदगी को मिले कोई हुनर ऐसा भी ऐ खुदा,
सबमे मौजूद भी रहे और फना हो जाए।

Article Categories:
Dard Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.