banner
May 5, 2021
19 Views
0 0

Dard Bhari Shayari – Ek Naya Dard Dil Mein

Written by
banner

Ek Naya Dard Mere Dil Mein Jaga Kar Chala Gaya,
Kal Phir Woh Mere Shehar Mein Aakar Chala Gaya,
Jise Dundhte Rahe Hum Logon Ki Bheed Mein,
Mujh Se Woh Apne Aapko Chhupa Kar Chala Gaya.
एक नया दर्द मेरे दिल में जगा कर चला गया,
कल फिर वो मेरे शहर में आकर चला गया,
जिसे ढूंढते रहे हम लोगों की भीड़ में,
मुझसे वो अपने आप को छुपा कर चला गया।

Gujarta Waqt Humein Ehsaas Dila Deta Hai,
Jise Chahte Hain Hum Woh Hi Dil Dukha Deta Hai,
Waqt Marham Laga Deta Hai Jin Zakhmo Par,
Koi Apna Uss Dard Ko Fir Se Jaga Deta Hai.
गुजरता वक़्त हमें एहसास दिला देता है,
जिसे चाहते हैं हम वो ही दिल दुखा देता है,
वक़्त मरहम लगा देता है जिन ज़ख्मो पर,
कोई अपना उस दर्द को फिर से जगा देता है।

Khushiyon Se Naaraj Hai Meri Zindgi,
Bas Pyaar Ki Mohtaaz Hai Meri Zindgi,
Hans Leta Hoon Logo Ko Dikhane Ke Liye,
Waise Toh Dard Ki Kitaab Hai Meri Zindgi.
खुशियों से नाराज़ है मेरी ज़िन्दगी,
बस प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िन्दगी,
हँस लेता हूँ लोगों को दिखाने के लिए,
वैसे तो दर्द की किताब है मेरी ज़िन्दगी।

Article Categories:
Dard Bhari Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.