banner
May 4, 2021
14 Views
0 0

Broken Heart Shayari – Tumhari Yeh Berukhi

Written by
banner

Iraadon Mein Abhi Bhi Kyun Itni Jaan Baki Hai,
Tere Kiye Vaadon Ka Imtehaan Abhi Baki Hai,
Adhuri Kyun Reh Gayi Tumhari Yeh Berukhi,
Abhi Dil Ke Har Tukde Mein Tera Naam Baki Hai.
इरादों में अभी भी क्यों इतनी जान बाकी है,
तेरे किये वादों का इम्तिहान अभी बाकी है,
अधूरी क्यों रह गयी तुम्हारी यह बेरुखी,
अभी दिल के हर टुकड़े में तेरा नाम बाकी है।

Jab Pyar Nahi Hai Toh Bhula Kyun Nahi Dete,
Khat Kis Liye Rakhe Hain Jala Kyun Nahi Dete,
Kis Vaaste Likha Hai Hatheli Pe Mera Naam,
Main Harf Galat Hun Toh Mita Kyun Nahi Dete.
जब प्यार नहीं है तो भुला क्यों नहीं देते,
खत किसलिए रखे हैं जला क्यों नहीं देते,
किस वास्ते लिखा है हथेली पे मेरा नाम,
मैं हर्फ़ गलत हूँ तो मिटा क्यों नहीं देते।

KahKahon Ki Aanch Ko Tanhayian Sahti Rahin,
Aur Aankhein Aansuon Se Mashwara Karti Rahin,
Ek Riyaje-Fan Yahi Unko Salamat Rakh Saka,
Qatra-e-Khoon Se Hi Zakhme-Dil Ko Bharti Rahin.
कहकहों की आँच को तन्हाइयाँ सहती रहीं,
और आँखें आंसुओं से मशविरा करती रहीं,
एक रियाजे-फन यही उनको सलामत रख सका,
कतरा-ए-खूं से ही जख्मे-दिल को भरती रहीं।

Article Categories:
Broken Heart Shayari
banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, text, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded.